Bank से Loan कैसे लें ? तथा इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

Loan क्या है और लोन कैसे ले ? loan कितने प्रकार के होते हैं ? तथा लोन लेने के लिए कौन सी पात्रता होनी चाहिए - पूरी जानकारी

Loan कैसे लें ? यदि आप भी यही ढूंढ़ रहें हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं। आज बहुत से लोग धंधा-व्यापार शुरू करना तो चाहते हैं, लेकिन उनके पास धंधा-व्यापार शुरू करने के लिए पूंजी (investment) ही नहीं होती। ऐसे में पूंजी के अभाव में एक Businessman को अपना business grow कराने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

तो आज आप जानने वाले है कि आप किन प्रक्रियायों और पात्रता को पूरा कर बड़ी आसानी से लोन ले सकते हैं। लेकिन loan लेने से पहले आपको लोन क्या होता है ? यह जानना बहुत जरुरी है। तो आईये सबसे पहले इसे बेहतर तरीके से समझने की कोशिश करते हैं।

लोन क्या होता है ? (What Is Loan Hindi)

Loan एक प्रकार कर कर्ज, यानि की उधार होता है, जो किसी Bank या NBFC (Non Banking Financial company) द्वारा किसी Indivisual entity या Bussiness Industry को grow कराने के उद्देश्य से provide कराया जाता है। ताकि भविष्य में दी गई रक़म के साथ-साथ समय की counting अनुसार ब्याज़ सहित वसूला जाता है।

ध्यान रखें लोन ज़रूरत के समय में एक बहुत ही उपयोगी चीज़ होती है, लेकिन यदि आप लिए गए loan को चुका पाने में असमर्थ हैं तो कृपया इससे दूर ही रहें।

Loan कैसे ले (लोन लेने के लिए पात्रता)

लोन आप किसी भी बैंक या NBFC से ले सकते हैं, यदि आप लोन लेने के लिए सभी मापदंडो की पात्रता रखते हैं। Loan लेने हेतु आप अपने नजदीकी बैंक से संपर्क करें।

लोन लेने हेतु पात्रता निम्न है

  • पहचान पत्र सत्यापन संबंधी मूल दस्तावेज (आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी)
  • Education (कम से कम 10वीं पास)
  • Business Propharma (व्यवसाय रूप रेखा आदि व्याज़ खर्च)
  • 3 साल का ITR (Income Tax Return File)
  • आपकी आयु 18-60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • किसी भी company में salaried होना चाहिए।
  • भारतीय नागरिकता
  • आपका Civil Score कम से कम 750 होना चाहिए।

Note यदि आप एक salaried है तो ज़्यादातर chance होते हैं कि आपको सभी जगहों से लोन मिल जायेगा। लोन लेने के बाद आपकी सिविल online दिखने लगेगी।

लोन कितने प्रकार के होते हैं ?

Loan मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं :-

  1. Secured Loan
  2. Unsecured Loan

Secured Loan

यह लोन किसी प्रकार के धन को security के तौर पर जमा कराने के बाद provide कराया जाता है। यह security किसी भी assets के form में हो सकती है। जैसे property, gold, fd (Fixed Deposit), pf (Provident Fund), insurance इत्यादि।

यानी मान लीजिये यदि आप home loan लेने जा रहें तो आपकी जमींन (property) asset के रूप में bank के अधीन एक गारंटी के तौर पर रहेगी, जिसे आप नहीं बेच सकते हैं। जब तक की आप home loan की रकम को वापस नहीं कर देते।

क्योंकि यदि आपके द्वारा लिए गए home loan की रकम को वापस नहीं किया जाता तो संबंधित bank आपकी property को नीलाम करके दिए गए लोन की भरपाई कर सके। यानी इसमें asset एक प्रकार से guaranter का काम करता है।

Unsecured Loan

एक ऐसा लोन, जिसमे किसी भी प्रकार की security अर्थात guaranter की आवश्यकता नहीं होती। इसमें किसी भी asset को as a security के तौर पर नहीं जमा करना होता है।

इसमें bank या NBFC आपके civil score के आधार पर ही आपको loan provide करा देते हैं, वो भी बिना किसी security के।

कुछ popular loan इस प्रकार हैं

आज ज्यादातर लोग लोन को कई प्रकार से समझते हैं।

HomeUnsecured
Car/Vehicle Unsecured
EducationSecured
PersonalSecured
BusinessUnsecured
GoldUnsecured
Term Insurance

आईये अब इन लोन को विस्तार से समझते हैं

Home

इसमें नए घर खरीदने या पुराने घर को renovation के लिए provide कराया जाता है।

Car/Vehicle

यह लोन किसी भी vehicle खरीदने के लिए provide कराया जाता है।

Education

यह loan students को education पूरा करने के लिए इच्छुक विद्यार्थी को ही प्रदान किया जाता है।

Personal

इसमें किसी individual की जरुरतों के हिसाब से provide कराया जाता है।

Business

यह loan नया startups या फिर किसी business को grow कराने के लिए provide कराया जाता है। यदि आप नया startup करना चाहते हैं तो आप किसी government scheme के तहत loan लें, क्योंकि उसमे आपको अच्छी subsidy (छूट) प्रदान की जाती है।

Gold

यह एक प्रकार का secured loan होता है, जिसमे आपके gold को as a security के तौर पर deposit कराया जाता है और बदले में आपको loan provide कराया जाता है।

Term

जैसा की term नाम से ही स्पष्ट है, जिसका मतलब है शर्त या condition, जिसमे आपको एक specified time के अंदर ही वापस करना होता है। इसमें यदि आप time से चुका देते हैं तो fixed interest और यदि late चुकाते हैं तो interest rate बढ़ जाता है।

अब यह term loan, long term, medium term या short term आदि 1-3 साल या इससे भी ज्यादा हो सकता है।

लोन लेने के फायदे और नुकसान

लोन हमें अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए फायदेमंद होता है, जिससे हमें किसी relative या अन्य से पैसे मांगने की जरुरत नहीं होती, जिससे हमारी छवि बनी रहती है। और

फायदे

  • अपनी मनचाही आसान किस्तों में उधारी return की सुविधा।
  • बिना guaranty के loan की सुविधा।
  • Loan के इस्तेमाल पर कोई प्रतिबन्ध नहीं।
  • अपनी civil score को बेहतर बनाये रखने का मौका।

नुकसान

  • Civil Score खराब होने का खतरा बना रहता है।
  • आपको हर हाल में loan की EMI की fees भरनी पड़ती है, वो भी penalty के साथ।
  • कुछ private bank के द्वारा interest के साथ-साथ अन्य charges भी apply करना।

हमारी अंतिम राय

आप लोन तभी लें, जब आप उसे सही तरीके से use अर्थात manage कर पायें। और आपका अटका हुआ काम पूरा हो जाये। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो बेहतर होगा की आप लोन न ही ले।

अन्यथा यदि आप loan वापस नहीं कर पाते हैं। तो भी बैंक आपसे recover करेगा ही साथ ही आपको भविष्य में आपको कभी-भी लोन नहीं देगा।

आपको यह आर्टिकल Bank से Loan कैसे लें ? कैसा लगा comment करके जरूर बताये तथा Allhindime Telegram को Join करें। ताकि आपको ऐसे ही informative और valuable चीजे मिलते रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here