Insider Trading क्या है और यह कैसे काम करती है ? पूरी जानकारी

Insider Trading क्या है और Insider Trading कैसे काम करती है तथा Insider trading अवैध क्यों है

आज हम जानेंगे कि – Insider Trading क्या है और यह कैसे काम करती है ? जी हाँ ! सही पढ़ा आपने। आप में से कई लोग share market में पैसा invest करते हैं या trading करते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है। जहां हम आपको share market के एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी से रूबरू कराना चाहते हैं, जिसे हम insider trading के नाम से जानते हैं। जो आपके लिए जानना बहुत ही जरुरी है।

जी हाँ दोस्तों ! यदि आप भी गूगल में यही search कर रहें हैं और जानना चाहते हैं कि – insider trading क्या है और यह कैसे काम करती है ? तो आप बिलकुल सही जगह पर आएं है, जहां हम आपको insider trading के बारे में पूरी जानकारी detail में provide कराने की कोशिश करेंगे।

दोस्तों ! आप में से ज्यादातर लोग share market में पैसे बनाने के उद्देश्य से ही कदम रखते हैं लेकिन उसमे से बहुत से लोग कामयाब भी जाते हैं। वहीँ दूसरी तरफ कुछ trader मार्केट से पैसे कमाने के लिए आते हैं लेकिन सही जानकारी न होने के चलते, वह अपनी सारी जमां पूंजी खो देते हैं। क्योंकि उनकी सबसे बड़ी कमी यही होती है कि – वह share market के बारे में सीखते नहीं है और directly काम करने लगते हैं।

क्या आप भी share market में पैसे invest और trade करके बहुत सारा online पैसा कमाना चाहते हैं तो यदि हाँ – आपको सबसे पहले एक demat account की जरुरत पड़ती है। यदि आप भी खुद से demat account open करना चाहते हैं तो आप कर सकते है।

Insider Trading क्या है ?

Insider Trading एक सार्वजनिक कंपनी के stock या अन्य प्रतिभूतियों (जैसे बांड या स्टॉक विकल्प) का व्यापार है, जो कंपनी के बारे में जानकारी, गैर-रिपब्लिक जानकारी पर आधारित है। विभिन्न देशों में, अंदरूनी जानकारी के आधार पर कुछ प्रकार का व्यापार अवैध है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि यह उन अन्य investors के साथ अन्याय के रूप में देखा जाता है, जिनके पास जानकारी तक पहुंच नहीं है, क्योंकि अंदरूनी जानकारी वाले निवेशक संभावित रूप से एक बड़े निवेशक की तुलना में अधिक लाभ कमा सकते हैं।

Insider Trading को नियंत्रित करने वाले नियम जटिल हैं और देश से दूसरे देश में काफी भिन्न हैं। प्रवर्तन की सीमा भी एक देश से दूसरे देश में भिन्न होती है। एक क्षेत्राधिकार में अंदरूनी सूत्र की परिभाषा व्यापक हो सकती है, और न केवल अंदरूनी सूत्रों को कवर कर सकती है, बल्कि उनसे संबंधित किसी भी व्यक्ति, जैसे दलालों, सहयोगियों और यहां तक कि परिवार के सदस्यों को भी कवर कर सकती है।

एक व्यक्ति जो गैर-सार्वजनिक जानकारी से परिचित हो जाता है और उस आधार पर trade करता है, वह अपराध का दोषी हो सकता है।

Trading कितने प्रकार की होती है ?

अब हम बात करने वाले हैं कि – शेयर मार्केट में trading कितने प्रकार की होती है ? तो दोस्तों ! मैं यहां आपकी जानकारी के लिए बता देना चाहता हूँ कि – share market में trading segment के आधार पर होती है।

जैसे कि – equity-cash, equity-derivative (F&O), commodity (MCX & NCDEX), currency इत्यादि प्रकार के segment में trading होती है।

वैसे तो दोस्तों ! trading दो प्रकार की होती है। Delivery (Carry-forward) और Intra-trading लेकिन ज्यादातर trading equity cash, derivative और MCX (Multi Commodity Exchange) में ही होती है।

Note:- Delivery Equity Cash के लिए उपयोग में लायी जाती है, जबकि Carry-forward Equity Derivatives और MCX trading के लिए use की जाती है। लेकिन इससे थोड़ा-सा हटकर भी एक trading होती है, जिसे हम Insider Trading के नाम से जानते हैं।

Insider Trading अवैध (illegal) क्यों है ?

दोस्तों ! अगर बात करें कि – Insider trading अवैध (illegal) क्यों है ? यानी कि यह legal नहीं है, क्योंकि यह एक अपराध के दायरे में आता है। क्योंकि insider trading में trader जिस कंपनी के stock में trade करता है तो वह प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष के तौर पर company से जुड़ा हुआ होता है।

तो इससे उसे company की report अर्थात company की performance के बारे में कंपनी मैनेजर द्वारा पहले से ही जानकारी हो जाती है। जिससे वह trader प्रॉफिट तो कमा लेता है लेकिन loss से बच जाता है।

वहीँ दूसरी तरफ जो लोग insider trading के बारे में नहीं जानते हैं तो उन्हें direct तौर पर insider trade न उठाकर आम public की तरह trade उठाते हैं। जिसमे उन्हें यह नहीं पता होता कि – उनकी company की performance कैसी है ? और शायद इसी वजह से आम traders और investors को loss होता है।

जबकि insider trader को जैसे ही यह पता चलता है कि – insider trading में की जाने वाली trading में company को loss होने की सम्भावना देखते ही अपने shares को profit में बेचकर निकलकर loss से बच जाते हैं।

जबकि आम Trader को इसी बात की जानकारी न होने के चलते उन्हें loss का सामना करना पड़ता है।

Insider Trading के दुष्परिणाम क्या है ?

तो अब हम बात करें कि – Insider Trading के दुष्परिणाम क्या – क्या हैं ? अगर हम insider trading के दुष्परिणाम की बात करें तो इतिहास में ऐसे कई बार इसके दुष्परिणाम सामने आये हैं जिन्हे हम विभिन्न प्रकार के Scam के रूप में जानते हैं।

जैसे कि – हर्षद मेहता Scam 1992, जी हाँ दोस्तों ! हर्षद मेहता scam Insider Trading का ही एक उदाहरण है। आज जितने बड़े – बड़े investor और Trader के नाम से जाने जाते है वे सभी Insider trading से ही अमीर बने हैं।

लेकिन उस समय Insider trading को अवैध नहीं माना जाता था, जिसके चलते Harshad Mehta scam के रूप में सामने आया। तभी इसके बाद SEBI अर्थात Security Exchange Board OF India का गठन हुआ और तभी से Insider Trading अवैध मानी जाती है।

SEBI का गठन होना बहुत ही जरुरी था क्योंकि इसमें company से जुड़े ख़ास व्यक्तियों का तो फ़ायदा हो जाता था। लेकिन आम public को इससे भारी भरकम नुकसान उठाना पड़ता था। अब आप समझ ही गए होंगे कि – SEBI का गठन क्यों जरुरी था ?

आखिर में –

तो हमारी अंतिम राय यही रहेगी कि – हमें Insider trading को किसी भी प्रकार से बढ़ावा न नहीं देना चाहिए। हमें एक अच्छे trader का Role निभाते हुए legal आम public की तरह trade लेना चाहिए। और यही एक अच्छे Trader की पहचान होती है। शायद इसी के चलते SEBI का गठन किया गया ताकि दोबारा कभी भी हर्षद मेहता जैसे scam को दोहराया न जा सके।

तो दोस्तों ! हम उम्मीद करते है कि – आपको हमारा यह Article Insider trading क्या है ? और यह कैसे काम करता है ? इससे Related सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो गयी होगी। और हम आशा करते है कि – आप अच्छी Trading को बढ़ावा देंगे न कि insider trading को।

आपको हमारा यह लेख – Insider Trading क्या है और यह कैसे काम करती है ? कैसा लगा Comment करके जरूर बताये। यदि आपको यह article अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करें। यदि आप भी अपनी मातृभाषा हिंदी से प्यार करते है आप हमारे ब्लॉग के साथ बने रहिये। जहाँ हम आपको नयी-नयी जानकारी से अवगत कराते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here